Type Here to Get Search Results !

ad

ADD


 

𝐇𝐚𝐫𝐲𝐚𝐧𝐚 𝐃𝐞𝐬𝐤 : बहुमत के लिये आवश्यक 45 विधायक भाजपा के पास नहीं हैं, इसलिये विधानसभा भंग हो, राष्ट्रपति शासन लागू हो, नये चुनाव कराए जाएं - दीपेंद्र हुड्डा

हरियाणा की भाजपा सरकार से कोई वर्ग खुश नहीं हैं यहां तक कि सरकार को समर्थन दे रहे विधायक भी खुश नहीं हैं - दीपेंद्र हुड्डा


मौजूदा बीजेपी सांसद पिछले 5 साल के दौरान क्षेत्र में विकास के कामों का लेखा-जोखा जनता के सामने रखें – दीपेन्द्र हुड्डा 


जसौर खेड़ी में अंतर्राष्ट्रीय नाभिकीय विश्वविद्यालय (GCNEP) और खानपुर खुर्द, झाड़ली  में थर्मल पॉवर प्लांट बनवाया, बीजेपी ने कोई एक भी नया काम किया हो तो बताए – दीपेन्द्र हुड्डा






झज्जर DIGITAL DESK  ||   सांसद दीपेंद्र हुड्डा आज झज्जर हलके के गांव खेड़ी खुम्मार, खातीवास, रुडियावास, नौगांवा, सासरौली, मालियावास, बिरोहड़, कालियावास, खाचरौली, सेहलंगा, ढहलानवास, झामरी, बाजितपुर, खोरड़ा, बहु, खेड़ा थरु, खानपुर कलां, चेहडा, खानपुर खुर्द, गोरिया आदि में चुनाव प्रचार किया व जनसभाओं को संबोधित कर लोगों से कांग्रेस के पक्ष में मतदान करने की अपील की। इस दौरान तपती दोपहरी में भी गांवों में जगह-जगह उनका जोरदार स्वागत किया गया। कहीं लड्डुओं से तौला गया, तो कहीं फूल बरसाकर जनता ने अपना समर्थन और आशीर्वाद दिया। दीपेंद्र हुड्डा ने कहा कि इस सरकार से कोई वर्ग खुश नहीं है, यहाँ तक कि सरकार को समर्थन देने वाले विधायक भी सरकार से नाराज हैं। तभी 3 निर्दलीय विधायकों ने बीजेपी से समर्थन वापस ले लिया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा में बहुमत के लिये आवश्यक 45 विधायक भाजपा के पास नहीं हैं, इसलिये विधानसभा भंग हो, राष्ट्रपति शासन लागू हो, नये चुनाव कराए जाएं। इस दौरान विधायक गीता भुक्कल, राजस्थान से कांग्रेस विधायक शिखा बराला मौजूद रहीं।




उन्होंने कहा कि हरियाणा की बीजेपी सरकार के पाँव लड़खड़ा चुके हैं। जनता का वोट एक है लेकिन इस चुनाव में चोट दो होगी। यहाँ की जीत वाया दिल्ली चंडीगढ़ में काँग्रेस की सरकार बनाएगी। दीपेन्द्र हुड्डा ने आगे कहा कि 2014 के पहले तक हरियाणा विकास में, प्रति व्यक्ति आय, प्रतिव्यक्ति निवेश, रोजगार देने में नंबर 1 था। रेल, रोड, मेट्रो, हाईवे, औद्योगिक क्षेत्र, उद्योग, बिजली कारखाने, यूनिवर्सिटी, आईआईटी, आईआईएम, एम्स जैसे अनेक बड़े संस्थान बन रहे थे। लेकिन 10 साल की बीजेपी सरकार के बाद हरियाणा विकास में 17वें नंबर पर और बेरोजगारी, भ्रष्टाचार, अपराध, नशा, महंगाई में नंबर 1 पर पहुंच गया। पिछले 5 साल में बीजेपी-जेजेपी ने केवल भ्रष्टाचार और प्रदेश को लूटने का काम किया। इलाके में कराए गए विकास कार्यों का लेखा-जोखा बताते हुए दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि उन्होंने एम्स-2 बाढ़सा में एशिया के सबसे बड़े स्वास्थ्य परिसर का प्रस्ताव भारत सरकार से मंजूर कराया, जिसमें राष्ट्रीय कैंसर संस्थान (NCI) - 710 बेड के अलावा हजारों करोड़ रुपये की लागत वाले राष्ट्रीय महत्त्व के 10 अन्य संस्थान भी मंजूर कराये। इसके अलावा जसौर खेड़ी में अंतर्राष्ट्रीय नाभिकीय विश्वविद्यालय (GCNEP) मंजूर कराकर निर्माण कराया। खानपुर खुर्द और झाड़ली में थर्मल पॉवर प्लांट बनवाया। 3 नये IMT (IMT रोहतक, MET झज्जर, फुटवियर पार्क बहादुरगढ़ बनवाए, यहाँ 30 से ज्यादा बड़े उद्योग जिनमें मारुति, एशियन पेंट्स, पैनासोनिक, योकोहामा, डेंसो, अमूल, आईसिन, जे.के सीमेंट आदि लगे। बाढ़सा झज्जर में IIT दिल्ली के 2 कैंपस को मंजूरी दिलाई, बहादुरगढ़ में चालक प्रशिक्षण, यातायात शोध तथा वाहन प्रशिक्षण संस्थान की स्थापना कराई। मातनहेल (झज्जर) में केन्द्रीय विद्यालय, चौ. रणबीर सिंह स्टेट इंजीनियरिंग कॉलेज खुलवाया, रेवाड़ी-झज्जर-रोहतक रेल लाइन को मंजूर कराकर काम पूरा कराया। चार प्रदेशों को जोड़ने वाला NH-334B मेरठ-सोनीपत खरखौदा-सांपला-झज्जर-दादरी-बाढड़ा होते हुए राजस्थान तक नया राष्ट्रीय राजमार्ग प्रस्तावित व मंजूर कराकर काम पूरा कराया। रेवाड़ी–रोहतक वाया झज्जर NH 71 की फोर लेनिंग कराई। इसके अलावा, झज्जर, बादली, बहादुरगढ़, महम, कोसली, रोहतक, कलानौर, सांपला समेत 17 शहरों में बाईपास बनवाये और छुछकवास, मातन, सुबाना और बेरी का बाईपास एनसीआर प्लानिंग बोर्ड से मंजूर करा दिया था। लेकिन 10 साल में बीजेपी सरकार हमारे द्वारा 4 मंजूरशुदा बाईपास भी नहीं बनवा पायी। उन्होंने मांग करी कि मौजूदा बीजेपी सांसद पिछले 5 साल के दौरान क्षेत्र में विकास के कामों का लेखा-जोखा जनता के सामने रखें। 



दीपेन्द्र हुड्डा ने कहा कि भाजपा सरकार ने प्रदेश में शिक्षा तंत्र को तबाह कर दिया। उसने केवल आईआईटी के विस्तृत परिसरों का काम ही ठंडे बस्ते में नहीं डाला, बल्कि राजनीतिक कमजोरी के चलते हमारे द्वारा मंजूर करायी गयी दर्जनों बड़ी परियोजनाओं जैसे बाढ़सा एम्स-2 परिसर के बचे हुए 10 मंजूरशुदा संस्थान, रेल कोच फैक्ट्री, महम अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डा, RRTS प्रोजेक्ट आदि को या तो दूसरे प्रदेशों में भेज दिया या काम ही अटका दिया। लेकिन अब समय बदलने वाला है और आने वाली 25 मई को जनता बीजेपी सरकार को उखाड़ फेंकेगी। इसके बाद इलाके में फिर से विकास का पहिया घूमेगा और दिल्ली से सटा झज्जर, रोहतक का ये इलाका भी गुड़गाँव, नोएडा की तर्ज पर तेज प्रगति करेगा। 



READ ALSO  - 

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.


 

Below Post Ad


ADD


 

ads