Hot Widget

Type Here to Get Search Results !


















































Rohtak - पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा पानी में भी वोट ढूंढ रहे हैं - अगर पहले रोहतक की गली गली में घूम लेते तो आज पायजामा ऊपर नहीं करना पड़ता : पूर्व मंत्री ग्रोवर

रोहतक के लोगों ने हुड्डा को सांसद व मुख्यमंत्री बनाया - बेटे को सांसद बनाया लेकिन पानी निकासी के लिए क्या किया 

रोहतक की जनता ने विधायक बतरा को दो बार मौका दिया, लेकिन आउटपुट कुछ नहीं दिया 

बोले, हुड्डा ने लोगों का दर्द जानने में कम दिखाई रुचि, सिर्फ लगवाए अपनी जयकारे के नारे 

रोहतक | NEWS -   भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष और पूर्व सहकारिता मंत्री मनीष कुमार ग्रोवर ने पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा के दौरे को पूरी तरह राजनीतिक स्टंट करार दिया। ग्रोवर ने पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा पर हमला बोलते हुए कहा कि रोहतक के लोगों ने आपको सांसद बनाया, मुख्यमंत्री बनाया और बेटे को सांसद बनाया, लेकिन शहर के आंतरिक हिस्सों और पुराने रोहतक की अनदेखी करने के सिवाय क्या दिया ? हुड्डा लोगों की तकलीफ जानने की बजाय अपने जयकारे के नारे लगवाने में ज्यादा रूचि दिखा रहे थे और पानी में वोटों को ढूंढ रहे थे। 

मीडिया को जारी प्रेस विज्ञप्ति में पूर्व मंत्री ग्रोवर ने कहा कि 1995 में जब बाढ़ आई, उस वक्त हरियाणा में कांग्रेस की सरकार थी और तब भूपेंद्र हुड्डा रोहतक के सांसद थे।  इसके बाद हुड्डा 10 साल मुख्यमंत्री रहते हुए रोहतक शहर के आंतरिक हिस्से को संभाल लेते तो लोगों को ऐसे दिन नहीं देखने पड़ते। उन्होंने कहा कि आज पूर्व मुख्यमंत्री पहली बार पायजामा ऊपर करके पानी में उतरे हैं। उनके कार्यकाल में किस तरह रोहतक डूबा रहता था, यह किसी से छुपा नहीं है। अगर तब ठोस योजना बना देते तो आज उन्हें इस तरह नहीं घूमना पड़ता। 

ग्रोवर ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी को सत्ता में आए हुए मात्र 8 वर्ष हुए हैं और पिछले 8 साल में ऐसा पहला मौका आया, जब जलभराव की ऐसी स्थिति बनी है। जब रोहतक की जनता ने उन्हें विधायक चुना था, तब पानी निकासी के लिए कई कड़े कदम उठाए थे। राज्य सरकार ने पानी निकासी के लिए कई पंपिंग स्टेशन मंजूर किए। आज जलभराव की स्थिति में भाजपा पार्षदों और मंडल अध्यक्षों ने भी फील्ड में उतर कर लोगों की मदद की। ग्रोवर ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री जिस अमृत योजना का जिक्र कर रहे हैं, उन्हें पता होना चाहिए कि इस योजना का सबसे ज्यादा बजट किलोई विधानसभा और कलानौर विधानसभा में ही खर्च हुआ है। कांग्रेस की सरकार के समय रोहतक के चारों ओर अवैध कॉलोनियां विकसित हुई थी, लेकिन कांग्रेस की सरकार उनमे मूलभूत सुविधाएं नहीं दे पाई। पिछले 8 वर्ष में भाजपा की सरकार ने इन तमाम कॉलोनियों और नगर निगम के अंतर्गत आने वाले गांवों में सीवरेज की लाइन, पानी की लाइन, बूस्टर स्टेशन, सीवरेज ट्रीटमेंट प्लांट, बिजली और सड़कें देने का काम किया है।

ग्रोवर ने कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री एक तरफ तो रोहतक को अपना घर बताते हैं और दूसरी तरफ बतौर मुख्यमंत्री रहते हुए पुराने रोहतक की ही अनदेखी करते रहे। उन्हें रोहतक के लोगों की भावनाओं से नहीं खेलना चाहिए। उन्होंने रोहतक के मौजूदा विधायक भारत भूषण बतरा पर कहा कि रोहतक के लोगों ने उन्हें दूसरी बार विधायक चुना, लेकिन उनका आउटपुट कुछ नहीं है। पूर्व मुख्यमंत्री हुड्डा की बैसाखी पर अपनी राजनीति करने वाले बतरा ड्राइंग रूम की राजनीति को छोड़कर सच्चे दिल से लोगों की सेवा करने की सोचें। ग्रोवर ने रोहतक के लोगों को आश्वस्त किया कि पानी निकासी के लिए राज्य सरकार की ओर से जो भी बेहतर इंतजाम हो सकेंगे, भविष्य में उन्हें सिरे चढ़ाया जाएगा।

READ ALSO  - Chandigarh- हरियाणा सरकार जल्द लाएगी फिल्म एवं एंटरटेनमेंट पॉलिसी: मुख्यमंत्री

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

 




 






 








 










 












 














GOOGLE ADD

google.com, pub-3587714222570301, DIRECT, f08c47fec0942fa0

ads